बिलासपुर: निगमायुक्त चौबे ने कलेक्टर को लिखा पत्र… कहा- इनवायरो केयर की मनमानी पर रोक लगाइए… जानिए क्या है पूरा मामला…

बिलासपुर।
बायोमेडिकल वेस्ट के परिवहन और निष्पादन के लिए नियुक्त एजेंसी इनवायरो केयर की मनमानी को लेकर नगर निगम प्रशासन सख्त हो गया है। निगम आयुक्त ने एजेंसी पर दंडात्मक कार्रवाई करने के लिए कलेक्टर को पत्र लिखा है।

छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल ने इनवायरो केयर इंटरनेशनल को बायोमेडिकल वेस्ट के परिवहन और वैज्ञानिक विधि से उसके निष्पादन के लिए एजेंसी नियुक्त किया है। मेडिकल वेस्ट को नष्ट करने के लिए नगर निगम को ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए ग्राम कछार में आवंटित 25 एकड़ भूमि में से 45,000 वर्ग फीट जमीन 10 वर्षों लीज पर कंपनी को दी गई है।

ठेका कंपनी ने आवंटित जमीन से अतिरिक्त नगर निगम की भूमि पर निर्माण करा लिया है और वहां पर बिना उपचार के मेडिकल वेस्ट को हैक किया गया है। इससे वहां कार्यरत कर्मचारियों के स्वास्थ्य पर खतरा बना हुआ है। नगर निगम ने इस मामले में कंपनी को नोटिस जारी किया था लेकिन कंपनी ने किसी तरह की कार्रवाई नहीं की।

निगम द्वारा लिखे गए पत्र के अनुसार खेढ़ा कंपनी को रेंटल वैल्यू के रूप में राशि नगर निगम को नियमित रूप से जमा करनी थी किंतु कंपनी राशि जमा नहीं कर रही है। निगमायुक्त सौमिल रंजन चौबे का कहना है कि बायो मेडिकल वेस्ट का निष्पादन हर स्थिति में 24 घंटे के भीतर होना आवश्यक है। ऐसा नहीं करने पर जन स्वास्थ्य को गंभीर खतरा बना हुआ है।

उन्होंने कलेक्टर को पत्र लिखते हुए कंपनी के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने की अपेक्षा की है। पत्र के साथ में उन्होंने मौके की तस्वीरें भी संलग्न की है।

सम्बंधित ख़बरें

Leave a Comment