बिलासपुर: प्रेस क्लब द्वारा आयोजित कार्यक्रम हमर पहुना में अतिथि पूर्व पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख कहा- पुलिस की छवि समाज में बेहतर होना चाहिए…पुलिस ही ऐसा विभाग है जो व्यक्ति को तत्काल जस्टिस उपलब्ध करा सकता है…

बिलासपुर।

  • बिलासपुर के पूर्व पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख ने कहा कि पुलिस की छवि समाज में बेहतर होना चाहिए जिसको लेकर पुलिस को समय-समय पर ट्रेनिंग मिलती रहना चाहिए। उन्होंने बिलासपुर में अपने कार्यकाल को लेकर बहुत से अनुभव साझा किए। गुरुवार को प्रेस क्लब द्वारा आयोजित कार्यक्रम “हमर पहुना” में अतिथि पूर्व पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख ने अपने अनुभव साझा कर पुलिस विभाग के कर्तव्य और चुनौतियों को साझा किया। उन्होंने बताया कि बिलासपुर के कार्यभार में उन्होंने काफी कुछ सीखा और अपने कर्तव्य को निभाया।
  • उन्होंने कहा कि बिलासपुर वासियों और पत्रकारों की सहायता से कंधे से कंधा मिलाकर उन्होंने अभियान में सफलता पाई है ।जो 1 साल बेहतर काम किया वह आप लोगों की सहायता से ही संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि समाज में गंदगी मतलब पुलिस में भी गंदगी है। उन्होंने कहा कि हमने समाज को क्या दिया यह महत्वपूर्ण है अगर मैंने 10 प्रतिशत भी अपने प्रयास से समाज में परिवर्तन लाया है तो वह भी मेरे लिए बहुत है।
  • बिलासपुर में कार्यकाल के दौरान उन्होंने समाजिक संस्था और पत्रकारों की सहायता से कई सामाजिक मुहिम चलाकर समाज में बदलाव लाने की कोशिश की है। सोशल मीडिया जिसका बहुत बड़ा केंद्र रहा है उनके द्वारा चलाए गए “राखी विद खाकी” और कई सामाजिक मुहिम सोशल मीडिया में काफी प्रचलित हुए। जिससे बिलासपुर की पुलिस का नाम बहुत लोकप्रिय हुआ। उन्होंने कहा की आंकड़ों के अनुसार पूरे छत्तीसगढ़ में हमारी बिलासपुर पुलिस ने ऐसा काम किया है जो काफी सराहनीय है।
  • आरिफ शेख ने कहा कि मेरी शुरू से ही पुलिस में रुचि रही है मेरी कई पीढ़ियां पुलिस विभाग में रही है। और मेरी भी रुचि पुलिस प्रशासन में है मुझे लगता है की पुलिस ही ऐसा विभाग है जो समाज के लोगों को  तत्काल और सीधा जस्टिस उपलब्ध करा सकता है।

 

सम्बंधित ख़बरें

Leave a Comment