पूर्व मंत्री गणेशराम भगत का वनवास खत्म… भाजपा ने निष्कासन किया रद्द… तो क्या पार्टी को बोनस मिलेगा…

रायपुर।

  • जशपुर के पूर्व मंत्री गणेश राम भगत की भाजपा में वापसी हो गई है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने उनका पार्टी से निष्कासन समाप्त कर दिया है। भाजपा ने जारी एक विज्ञप्ति में इसकी पुष्टि की है। विदित हो कि जशपुर क्षेत्र के वरिष्ठ नेता एवं भाजपा के पहले 5 साल के शासन काल में आवास पर्यावरण व आदिम जाति मंत्री रह चुके गणेशराम भगत को 2013 विधानसभा चुनाव में भाजपा ने टिकट नहीं दी थी, जिसके नाराज होकर भगत ने पार्टी से बगावत करते हुए निर्दलीय चुनाव लड़ा था।
  • इसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। पार्टी से बगावत और निर्दलीय चुनाव में मिली हार के बाद भगत राजनीति से कुछ समय के लिए दूर हो गए थे। इस बीच कई बार भगत के भाजपा में वापसी की अटकलें भी लगाई जा रही थीं। लंबे समय के बाद भगत की 2018 में अब जाकर वापसी हुई है। उनकी भाजपा में वापसी से भाजपा को और अधिक फायदा होगा।
  • हालांकि विधानसभा चुनाव में इस बार भी भगत को टिकट नहीं मिली है। पार्टी ने जशपुर से गोविंदराम भगत को प्रत्याशी बनाया है। भले ही पार्टी ने भगत को टिकट नहीं दिया है, लेकिन उनकी वापसी को भाजपा बोनस वोट के रूप में लेकर चल रही है।

सम्बंधित ख़बरें

Leave a Comment