छत्तीसगढ़: सरकारी मोबाइल वितरण योजना की होगी जांच… सीएम के एलान के बाद पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने यह आपत्ति जताई…

रायपुर।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्काई योजना की जांच का एलान किया है। ये जांच टेंडर से लकर उसके वितरण तक होगी। मुख्यमंत्री ने जांच का ये ऐलान विधायक लक्ष्मी ध्रुव के सवाल के जवाब में किया। मुख्यमंत्री ने ये भी कहा कि बचे हुए मोबाइल की कंपनी में वापसी के लिए भी कंपनी से बात की जाएगी।

लक्ष्मी ध्रुव ने मोबाइल में गड़बडी का आरोप लगाते हुए कहा कि ये पूरी योजना जियो कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए था। मोबाइल की क्वालिटी खराब थी, जिसकी वजह से कई घटनाएं हुई और मोबाइल भी फट गया। उन्होंने कहा कि जहां जहां मोबाइल बांटा गया है, वहां नेटवर्क ही नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 29 लाख 14 हजार 845 मोबाइल का वितरण किया जा चुका है. 9 लाख 20 हजार 518 मोबाइल अभी बचे हुए है। उन्होंने इस पूरे मामले की कैग से जांच कराने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि रमन एप और नमो एप को मोबाइल में डाला गया था, ताकि योजना के नाम पर पार्टी अपना प्रचार कर सके।

अजीत जोगी ने आरोप लगाया कि इस योजना को लेकर काफी गड़बड़ियों की शिकायत है, जिसका पूरा विवरण आना चाहिए। मुख्यमंत्री के जवाब पर भाजपा विधायक अजय चंद्राकर और शिवरतन शर्मा ने विरोध जताया। उन्होंने कहा कि जांच के बगैर भ्रष्टाचार की बात कहना सही नहीं है।

सम्बंधित ख़बरें

Leave a Comment