राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कल आयेंगे बस्तर…पारंपरिक अंदाज में किया जाएगा स्वागत…7 हजार पुलिस जवानों को सुरक्षा में किया गया तैनात

बस्तर।

  • देश के इतिहास में पहली दफा होगा, जब राष्ट्रपति दो दिन बस्तर में गुजारेंगे। कल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बस्तर संभाग के दंतेवाड़ा जिले में विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे। इसके बाद शाम को बस्तर के जगदलपुर के चित्रकोट रेस्ट हाउस में रात गुजारेंगे। दूसरे दिन जगदलपुर में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होंगे।
  • इस दौरान सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किये गये हैं। करीब 7 हजार पुलिस जवानों को सुरक्षा में तैनात किया गया है। वहीं हेलीकाप्टर और ड्रोन के साथ सादे लिबास में भी जवान तैनात रहेंगे। राष्ट्रपति कोविंद हीरानार के कृषि मॉडल विलेज कसोली जायेंगे। इस दौरान वो वहां ई-रिक्शा की सवारी करेंगे। ई-रिक्शा में राष्ट्रपति के अलावे उनकी पत्नी, मुख्यमंत्री रमन सिंह सवार होंगे।
  • मॉडल विलेज में उन्हें मड़िया (रागी माल्ट) से तैयार लड्डू और तीखुर की बर्फी के साथ नारियल पानी दिया जाएगा। साथ लोकटीमाछी चावल व फुटू दिया जाएगा। अन्य अतिथियों को लोकटीमाछी चावल, सूखा फुटू, शहद, हर्बल सिंदूर, गुलाल का पैकेट भेंटकर स्वागत किया जायेगा।राष्ट्रपति के दौरे के मद्देनजर बस्तर खास तौर पर तैयार हो रहा है।
  • स्वागत की तैयारी पारंपरिक अंदाज में की गयी है। खाने से लेकर उनके स्वागत तक की तैयारी में बस्तर की झलक नजर आने वाली है। दंतेवाड़ा में आयोजन का जिम्मा संभाल रहे अफसरों ने बताया कि हीरानार के सरस्वती शिशु मंदिर में राष्ट्रपति दोपहर का भोजन लेंगे। इस दौरान वो स्कूल के बच्चों से चर्चा करेंगे। शिक्षा विभाग की देखरेख में करीब एक हजार लोगों के लिए भोजन तैयार किया जाएगा।
  • 35 सदस्य राष्ट्रपति भवन से आये हुए मेहमान होंगे। सभी को बस्तरिया व्यंजन परोसा जायेगा। अभी तक के तैयार मेन्यु में अलग-अलग किस्म की तीन से चार सब्जी, अलग किस्म की पीली और काली दाल,  लोकटीमाछी चावल, मशरूम (फुटू), आमट , बादशाह भोग चावल की खीर, चटनी, भाजी और फल होगा।

सम्बंधित ख़बरें

Leave a Comment